Ferozepur News

रेल मंडल कार्यालय फिरोजपुर में श्री सूर्यकांत त्रिपाठी निराला जी की जयंती का ऑनलाइन आयोजन

रेल मंडल कार्यालय फिरोजपुर में श्री सूर्यकांत त्रिपाठी निराला जी की जयंती का ऑनलाइन आयोजन रेल मंडल कार्यालय फिरोजपुर में श्री सूर्यकांत त्रिपाठी निराला जी की जयंती का ऑनलाइन आयोजन

फिरोजपुर, 23.2.2021: आज मंडल कार्यालयए फिरोजपुर में श्री सूर्यकांत त्रिपाठी निराला जी की जयंती का ऑनलाइन आयोजन किया गया द्य इस कार्यक्रम का शुभारम्भ मंडल रेल प्रबंधक श्री राजेश अग्रवालए अपर मुख्य राजभाषा अधिकारी एवं अपर मंडल रेल प्रबंधक श्री भूपेंद्र प्रताप सिंहए अपर मंडल रेल प्रबंधक श्री बलबीर सिंह तथा राजभाषा अधिकारी श्री बिजेंद्र कुमार ने दीप प्रज्वलित करके तथा उनको श्रद्धा.सुमन अर्पित करके किया द्य

मंडल रेल प्रबंधक ने कहा कि श्री सूर्यकांत त्रिपाठी निराला हिंदी साहित्य जगत के बहुमुखी प्रतिभा संपन्न साहित्यकार थे । उन्होंने विविध प्रयोगों. छंदए भाषाए शैली भावए सम्बन्धी नव्यतर दृष्टियों को नवीन दिशा देने में महत्वपूर्ण योगदान दिया द्य उन्होंने कई छायाचित्र भी बनाए द्य उन्होंने कई उपन्यासए कहानियां और निबंध लिखे हैं द्य उनकी सबसे प्रसिद्ध रचना श्जूही की कलीश् है। उनकी प्रमुख रचनाओं में अनामिकाए परिमलए अणिमाए आराधनाए अर्चना आदि शामिल हैं द्य उन्होंने कई बाल साहित्य की भी रचना की जिसमें भक्त ध्रुवए भक्त प्रहलादए भीष्मए महाराणा प्रताप आदि शामिल हैं द्य

इस अवसर पर अपर मुख्य राजभाषा अधिकारी ने श्री सूर्यकांत त्रिपाठी निराला जी के जीवन तथा रचनाओं के बारे में विचार व्यक्त किया द्य राजभाषा अधिकारी श्री बिजेन्द्र कुमार ने भी उनके जीवन पर प्रकाश डाला द्य

मंडल रेल प्रबंधक ने रेलकर्मियों की साहित्यिक प्रतिभा को निखारने के उद्देश्य से स्वरचित रचनाओं को बढ़ावा देने पर बल दिया था द्य अतः इस बार एक स्वरचित रचनाओं की काव्य पाठ प्रतियोगिता का आयोजन 19ए फरवरी को श्री सूर्यकांत त्रिपाठी निराला जी की जयंती पर किया गया था द्य इसमें 19 रेलकर्मियों ने भाग लिया द्य इस काव्य पाठ प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागी श्री रजनीश कुमार त्रिपाठीए वरिण् मंडल सुरक्षा आयुक्त को ₹2000ए द्वितीय श्री तरुण गोयलए सहायक मंडल कार्मिक अधिकारी को ₹1500ए तृतीय श्री मुन्ना कुमारए लोको पायलट को ₹1000 तथा तीन सांत्वना पुरस्कार प्रत्येक को ₹500 प्रदान किए गए द्य इस कार्यक्रम का संचालन स्टेशन राजभाषा कार्यान्वयन समितिए अमृतसर द्वारा किया गया था द्य

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close