News

डीसी मॉडल स्कूल में मिडास के तहत रू-ब-रू शाम-ए-गजल  कार्यक्रम का आयोजन

प्रिंसिपल ने 75 वर्ष के प्लैटिनम कार्यक्रम संबंधी चर्चा की तो स्कूल उपलब्ध्यिों को देख गदगद हुए एल्यूमनाई

डीसी मॉडल स्कूल में मिडास के तहत रू-ब-रू शाम-ए-गजल  कार्यक्रम का आयोजन
-सैंकड़ो की संख्या में पुराने विद्यार्थियों ने सांझा किए पल, प्रिंसिपल से मिलकर भावुक हो छलके खुशी के आंसू-
-प्रिंसिपल ने 75 वर्ष के प्लैटिनम कार्यक्रम संबंधी चर्चा की तो स्कूल उपलब्ध्यिों को देख गदगद हुए एल्यूमनाई-

फिरोजपुर, 1 मार्च, 2020
1971 बैच के विद्यार्थियों के अपसी मिलन व उन्हें स्कूल की उपलब्ध्यिों से परिचित करवाने के उद्देश्य से डीसी मॉडल सीनियर सैकेंडरी स्कूल में मिडास के तहत रू-ब-रू शाम-ए-गजल  कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें सैंकड़ो की संख्या में स्कूल के पुराने छात्रों ने शिरक्त की और पुरानी यादों को ताजा करने के अलावा कार्यक्रम का आन्नद उठाया।
प्रिंसिपल राखी ठाकुर ने बताया कि स्कूल के स्टॉफ द्वारा संगीतमय गजलें सुनाकर सभी को मंत्रमुगध किया। कार्यक्रम में डीसीएम ग्रुप ऑफ स्कूल्स के  डॉयरैक्टर कांता गुप्ता ने विशेष तौर पर हिस्सा लिया, जिन्होंने स्कूल के स्वर्णमयी इतिहास से सभी को परिचित करवाने के अलावा वर्तमान में विदेशों तक नाम रोशन करने संबंधी जानकारी दी। सभी पुराने विद्यार्थियों ने स्वयं को गर्वमयी महसूस करते हुए कहा कि उन्हें अच्छा लगा कि जिस स्कूल में उन्होंने अपनी आरम्भिक शिक्षा हासिल की वह ना सिर्फ सीमावर्ती जिले बल्कि देश-विदेश में भी शिक्षा के क्षेत्र में उपलब्धियों हासिल कर चुका है। प्रिंसिपल ने डीसीएम ग्रुप के 75 वर्ष पूरे होनें पर प्लैटिनम कार्यक्रम के बारे में विचार-विमर्श किया।
एल्युमनाई आईटीओ विवेक मल्होत्रा, डा: शील सेठी, रिटायर्ड पुलिस अधिकारी दिलबाग सिंह पन्नू, भारत भूषण गुप्ता, साइंस टीचर कमल शर्मा, डा: प्रदीप गर्ग, डा: सुधीर शर्मा, रेलवे से राजेश वर्मा इत्यादि जब अपने स्कूल के पुराने प्रिंसिपल से मिले तो अतीत की यादें ताजा की तो उनकी आंखे खुशी के आंसूओं से छलक आई। उन्होंने उस वक्त अपने साथ पढऩे वाले कुछ साथियों को भी याद किया और कहा कि स्कूल के उन दिनों को वह कभी भुला नहीं पाएंगे। उन्होंने कहा कि डीसीएम ग्रुप मानवता की सेवा में जो अहम कदम उठा रहा है और यहां की पूर्व प्रिंसिपल व वर्तमान डॉयरैक्टर कांता गुप्ता ने स्कूल के उत्थान में जो अहम कार्य किया है, उसे इतिहास याद करेगा।
इन्होंने विश्व में चमकाया स्कूल का नाम
स्कूल संस्थापक श्री एम.आर. दास द्वारा बहाई शिक्षा की गंगा में डुबकी लगाकर लाखों विद्यार्थी देश-विदेश में उच्च जहां उच्च पदों पर आसीन है तो वहीं उनके  बताए मार्ग का अनुसरण भी कर रहे है। स्कूल में डिप्टी चीफ इंटीग्रेटिड डिफैंस स्टॉफ के अनिल अहूजा, राज्य के खेल मंत्री राणा गुरमीत सोढ़ी, लॉफ्टर योगा के जनक डा. मदन कटारिया, यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के डॉक्टर संदीप संधा, इंडियन आर्मी के सर्जन मेजर डा: रजत प्रभाकर, भारत सरकार के संयुक्त सचिव अमित सिंगला, टैलीविजन एक्ट्रैस एनी गिल्ल, इंडियन एयरफोर्स के अधिकारी विकास मदान, आईएएस डीपीएस खरबंदा, पीसीएम कुसुम व खुशदिल, एडीसी हिमांशु अग्रवाल, विधायक सुखपाल भुल्लर जैसी अनेको ऐसी शख्सियते जिन्होंने न्यायपालिका, कार्यपालिका, पुलिस, आर्मी सहित अन्य क्षेत्र में सेवाएं देकर स्कूल का नाम रोशन कर रहे है। उन्होंने बताया कि ऐसे विद्यार्थियों के लिए स्कूल द्वारा मिडास का भी गठन किया है।

Related Articles

Leave a Comment

Back to top button
Close